Tuesday, December 28, 2010

मुझे जन्म लेने दो

नग़मा जावेद




माँ!

पिताजी कहते हैं।

उन्हें लड़की नहीं चाहिए।

तुम डरी-डरी सी

जी रही हो....

अगर

पैदा हुई लड़की

तो क्या होंगा?



माँ!

मत डरो-

मुझे जन्म लेने दो

मैं-

अपनी लड़ाई

खुद लडूँगी।

No comments: