Saturday, August 30, 2008

तेरा साथ

सीमा गुप्ता

ये धुंधला साया ,
ये काली परछाई,
लम्बी तनहाई,
और एक अधूरी आस "

No comments: